Monday, 22 May 2017

Tom cruise life story

टॉम क्रूज को भी थी डिस्लेक्सिया


tom cruise

दोस्तों आज हम ऐसी बीमारी के बारे में बताने जा रहे है,जिसमे व्यक्ति की समझने के शकती बहुत कम होती है। ये बीमारी आम तौर पर ३ से 15 साल की उम्र के बच्चो में पायी जाती है ,अगर आप लोगो ने तारे जमीन पर देखी है तो आप इसे भली भांति परिचित होंगे ,तो दोस्तों अब हम आप को टॉम क्रूज के बारे में इस बीमारी को हराकर उनके सक्सेस होने की कहानी बतायेगे। हॉलीवुड के मशहूर स्टार टॉम क्रूज को कौन नहीं जानता है ,पर बहुत कम लोग जानते है जब टॉम छोटे थे तब उन्होंने बहुत मुश्किल भरे दिन देखे टॉम एक गरीब परिवार में पैदा हुए था ,और उनकी पढाई के दौरान उन्हें एक गंभीर बीमारी का सामना करना पड़ा था। टॉम के पिता पेशे से एक इंजीनयर थे काम की तलाश में उन्हें अक्सर इधर उधर जाना पड़ता था,

Tuesday, 16 May 2017

Do bhaiyo ki kahani

एक समय की बात है दो भाई थे ,उनमे आपसी प्रेम बहुत ही अधिक था दोनों के दिन की शुरुआत एक दूसरे को देखे बिना नहीं होती थी. दोनों भाई सम्पन्न होने के कारन उनमे आपसी मतभेद बिलकुल न था ,एक दिन दोनों की किसी जमीनी विवाद को लेकर बहुत ज्यादा लड़ाई हो जाती है। आपसी बोल चाल बंद हो जाता है ,महीने बीतते है साल बीतते है ,और वर्षो बीत जाते है लेकिन एक दूसरे से बात करना तो दूर वो एक दूसरे का मुँह देखना भी पसंद नहीं करते है ,इस आपसी विवाद के कारन उनके परिवार दो समूहों में बट जाते है और उनके बेटे उनकी पत्निया कोई भी आपस में नहीं बोलता है ,एक बार जब दोनों के परिवार एक सत्संग में जाते है और वहां बैठकर सत्संग सुन रहे होते है तभी अचनाक बारिश आ जाती है , और वह बैठे सभी उप्स्तीथ लोग एक किनारे आकर खड़े हो जाते है ,छोटा भाई भी जहा चंपप्ले पड़ी होती है वही खड़ा हो जाता है ,अचनाक

Tuesday, 9 May 2017

आखिर क्यों खाया पांडवो ने अपने मृत पिता का शरीर

आखिर क्यों खाया पांडवो ने अपने मृत पिता का शरीर 

Raja pandu ki kahani


दोस्तों आज हम आप को एक बहुत ही रोचक बात बतायेगे जो आप शायद पहली बार सुन रहे होंगे। दोस्तों क्या आप जानते हो की पांडवो ने अपने मृत पिता का शव क्यों खाया अगर आप नहीं जानते तो हम आप को बताते है ,तो चलिए दोस्तों अब हम जानते है की पांडवो ने अपने पिता के मृत शरीर को क्यों खाया।एक समय जब ऋषि किंदम हिरन और हिरणी का रूप धारण किये हुए सम्भोग कर रहे थे उस समय राजा पाण्डु आखेट पर निकले हुए थे राजा पाण्डु ने ऋषि किंदम और उनकी पत्नी पर बाण चला दिया, इस बात से क्रोधित होकर ऋषि किंदम ने राजा पाण्डु को श्राप दे दिया की जब भी तुम किसी स्त्री  के साथ सम्बन्ध बनाओगे तुम्हारी मृत्यु हो

Saturday, 6 May 2017

mahabharat ke kuch rochak srap

महाभारत के इन श्राप के बारे में आप नहीं जानते होंगे

परशुराम का कर्ण  को श्राप 
महाभारत 

दोस्तों आज  में आप को महाभारत के कुछ रोचक श्रपों के बारे में बताने जा रहा हु तो आइये जानते है परशुराम ने कर्ण को किस लिए श्राप दिया था। बात उस समय की है जब द्रोणाचार्य ने कर्ण को धनुर्विद्या सिखाने से मना कर दिया था . तब कर्ण परशुराम के पास जाते है और अपने आप को ब्राह्मण बताते है  क्युकी परशुराम सिर्फ ब्राह्मणो को ही धनुर्विद्या सिखाते थे. एक दिन जब परशुराम कर्ण की गोद में सोकर आराम कर  रहे थे. तब कर्ण को एक भयंकर कीड़ा काट लेता है.गुरु की निंद्रा में बाधा ना पड़े इसलिए कर्ण स्थिर रहते है जब परशुराम सोकर उठ जाते है  तो वे कर्ण से पूछते है की उन्हें इतना रक्त कहा से आया इतना दर्द एक ब्राह्मण नहीं सह सकता है तब कर्ण उन्हें बताते है की वो एक क्षत्रिय है ये सुनकर परशुराम क्रोधित हो जाते है

Friday, 5 May 2017

swami vivekanand

स्वामी विवेका नंद की रोचक कहानी 
दोस्तों स्वामी विवेकानंद बचपन से ही मेधावी छात्र थे उन्होंने बहुत से ऐसे कार्य एक छोटी सी उम्र में कर दिए जो एक साधारण आदमी नहीं कर सकता ही। वह दूर की सोच रखने वाले और कठिन परिश्रम करने वाले व्यक्ति थे जिहोने मात्र 39 वर्ष की आयु  तक सराहनीय कार्य किये। हमारे आज के युवाओ को भी उनके जीवन के कुछ प्रेणानादायक प्रसंगो के बारे में पता होना चाइये। तो दोस्तों में  आज आप को  एक ऐसा स्वामी विवेकांनद जी के जीवन का एक प्रेणनादायक प्रसंग सुनाता हु।
swami vivekanand